Thursday, December 24, 2009




सीमा पर फिर गोलीबारी !
जब मन भर जाए कह देना, ताकि फिर हो शुरू हमारी !!

विमान-अपहरण की धमकी !
धमकी देने का मन हो तो, बोलो क्या दें इससे कम की ??

रक्षक जब भक्षक बन जाए !
जिसमें दिल रक्खा होता है, उसका वो सीना तन जाए !!

छूट और कर !
इतनी छूट मिले कि अफसर, एक और बनवा ले खुद घर !!

लाखों ठगे !
पुलिस-महकमे के हाथों में, कितने-कितने लाख लगे ??

"ईश्वर के हाथों में है देश की सुरक्षा" !
अगर बस चले नेताओं का, ईश्वर की भी ले लें कक्षा !!

क्रिसमस की धूम !
शॉपिंग करने से पहले तू, महंगाई का माथा चूम !!


किंग-मेकर !
ताज किसी को भी दे देता, लेकिन पूरी कीमत लेकर !!


खाकी वर्दी !
शपथ-ग्रहण में, इसकी रक्षा, करने वाली हामी भर दी ??

हिरासत में !
मिला हुआ है पुलिसजनों को, यह अधिकार विरासत में !!

पोलियो !
कितने प्रतिशत सफल रहा है, यह बिलकुल मत बोलियो !!
-अतुल मिश्र