Thursday, October 8, 2009

दैनिक व्यंग्य-लेख-स्तम्भ !!




3 comments:

कुमार नवीन said...

अतुल भाईसाहब, आपका ब्‍लॉग देखकर आनन्‍द आ गया । अदभुत साजसज्‍जा के साथ विनम्र और करूणासिक्‍त व्‍यंग्‍य का अनुपम संग्रह है आपके ब्‍लॉक पर । बधाई स्‍वीकारें ---कुमार नवीन, पटना

hindwaarta said...

Kaise Vyakt Karoon Aabhar ??

hindwaarta said...
This comment has been removed by the author.